देश को चला रहे हैं किसान और सीमा पर तैनात जवान : भानु प्रताप




मझिआंव: मझिआंव बस स्टैंड पर किसान संघर्ष मोर्चा द्वारा आगामी 09 दिसम्बर को गढ़वा में आयोजित किसान अधिकार सम्मेलन को सफल बनाने के लिए नुक्कड़ सभा की गई। इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए नौसमो के केंद्रीय अध्यक्ष सह भवनाथपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक भानु प्रताप शाही ने कहा कि किसान बदहाल हैं। सवा सौ करोड़ लोगों का पेट भरने वाले किसानों की समस्याओं पर गम्भीरता से विचार कर समाधान करने का समय मंत्रियों के पास नहीं है। उन्होंने कहा कि देश को नेता और मंत्री नहीं चला रहे हैं। बल्कि देश को सरहद पर रक्षा करने वाला जवान एवं करोड़ो का पेट भरने वाला किसान चला रहा है। अगर किसान हड़ताल कर दें तो नेता जमीन पर खुरी दरकर मरने पर विवश हो जाएंगे। देश में पूंजीपतियों के द्वारा उत्पादित सामानों के मूल्य आसमान छू रहे हैं, लेकिन किसान उत्पादित सामानों के मूल्य आज भी वर्षों पहले की तरह है। उनके उत्पादित सामानों पर किसी नेता मंत्री की नजर नहीं जाती और न उनके समस्या पर कोई ध्यान दिया जा रहा है। भानु ने कहा कि किसानों को पानी उपलब्ध नही कराया जा रहा है जिसके कारण उनके समक्ष भुखमरी की स्थिति है। 1970 में मेरे पिताजी ने कनहर बराज की लड़ाई शुरु की थी, इसके बाद मैंने इसे आगे बढ़ाया। आज स्थिति यह है कि हम लड़ाई जीत गए हैं और कनहर बराज की प्रक्रिया शुरू हो गई है।
उन्होंने कहा कि किसानों की समस्याओं के लिए लड़ाई लड़ने एवं समाधान के लिए ही 09 दिसम्बर को गढ़वा में किसान अधिकार सम्मेलन आयोजित किया गया है। इन्होंने जिले के सभी किसानों को इस लड़ाई में शामिल होने की अपील की। सभा को मोर्चा के पलामू जिलाध्यक्ष कृपाल सिंह, बिश्रामपुर विस प्रभारी छोटन उपाध्याय, भगत दयानन्द यादव, बबलू पटवा सहित कई लोगों ने संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता एवं संचालन किसान संघर्ष मोर्चा के केंद्रीय संयोजक पुष्परंजन ने किया। मौके पर अजय बैठा, जितेंद्र प्रसाद यादव, ओम प्रकाश सहित कई लोग उपस्थित थे।

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें