मंत्री-विधायक के आवास से भगाए गए पारा शिक्षक अब पार्क में देंगे धरना




गढ़वा: झारखण्ड स्थापन दिवस कार्यक्रम में काला झंडा दिखाने पर पुलिस की लाठी से पिटे और गिरफ्तार किए गए पारा शिक्षकों के समर्थन और मांगों को पूरा करने को लेकर गढ़वा में जारी आंदोलन को झटका लगा है।
बता दूं कि पारा शिक्षकों के अपनी मांगों के सामने सरकार को झुकाने के लिए भाजपा की विधायकों और मंत्रियों के आवास पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया था। गढ़वा जिला प्रशासन ने यहां स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी और विधायक सत्येन्द्र तिवारी के आवास पर जारी धरना को रोक दिया। विधि-व्यवस्था और सुरक्षा की दृष्टिकोण के मंत्री और विधायक के आवास के समीप धारा 144 लागू कर दिया गया।
इसके बाद मंत्री-विधायक के आवास पर धरना दे रहे पारा शिक्षकों को जबरन हटा दिया गया। पुलिस की इस कार्रवाई से पारा शिक्षक बौखला गए। एक बैठक कर थाना के सामने स्थित नीलाम्बर-पीताम्बर पार्क में अनिश्चितकालीन धरना देने का निर्णय लिया है। पारा शिक्षकों ने होटवार जेल से छूटकर आये अपने नेता दशरथ ठाकुर सहित तीन नेताओं का स्वागत किया और उनके समर्पण को बेकार नहीं जाने देने का संकल्प लिया।

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें