विश्व मृदा दिवस पर केवीके गढ़वा में कार्यक्रम का आयोजन




गढ़वा: कृषि विज्ञान केंद्र गढ़वा में बुधवार को विश्व मृदा दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि उप विकास आयुक्त नमन प्रियेश लकड़ा ने दीप प्रज्जवलित कर उद्घाटन किया। इस मौके पर डीडीसी श्री लकड़ा ने कहा कि किसानंो से जुड़ी सभी योजनाआें का निष्पादन वे ससमय करने का प्रयास करते हैं। उन्होंने कहा कि किसान देश के अन्नदाता हैं। वे किसानों से जुड़ी किसी प्रकार की योजनाआें को त्वरित गति से निष्पादन करते हैं। उन्होंने कहा कि भूमि संरक्षण विभाग से दिए जानने वाले पंप से कोई तुरंत स्वीकृत कर वितरण शुरू करा दिया।
तकनीकी सत्र को संबोधित करते हुए मृदा विज्ञान विभाग के वैज्ञानिक डा. एसके झा ने किसानों को मानव जीवन में मृदा स्वास्थय के महत्व के बारे में बताया। उन्होनें कहा कि मिट्टी में पोषक तत्वों जैसे जिंक, आयरन, बोरोन आदि सुक्ष्म पोषक तत्वों की कमी होने से उस मिट्टी में उत्पन्न फल, सब्जी एवं अनाज में भी पोषक तत्व की मात्रा कम हो जाती है। जिसके कारण मानव में भी अब इन पोषक तत्वों की कमी के कारण विभिन्न प्रकार की बीमारियां होने लगी हैं। केवीके गढ़वा के प्रधान अशोक कुमार ने किसानों को समन्वित पोषक तत्व प्रबंधन के बारे में बताया। डा. अमरेश चंद्र पांडेय ने सुक्ष्म सिंचाई प्रणाली के बारे में जानकारी दिया। इस मौके पर जिला विकास प्रबंधक नवार्ड के लक्ष्मण कुमार, जिला पशुपालन के डा. अशोक कुमार, आत्मा के रविंद्र नाथ सिंह, जिला भूमि संरक्षण पदाधिकारी राम आश्रय राम, प्रक्षेत्र प्रबंधक विंध्याचल राम ,सियाराम पांडेय, सुशील कुमार, ब्रज भूषण पांडेय, अनिल कुमार, राकेश रंजन चौबे, शिवनाथ कुशवाहा, नूर मोहम्मद अंसारी, दयानंद तिवारी, मृत्युंजय कुमार सिंह, गोरखनाथ, विजय सिंह, विनय कुमार सिंह, शुभा तिवारी, गीता देवी ,अर्चना देवी, दिलीप कुमार सिंह, आनंद कुमार पांडेय, रविंद्र ठाकुर आदि किसान उपस्थित थे।

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें