बंशीधर महोत्सव के नाम पर सरकारी राशि की हुई जमकर लूट: केसरी




महोत्सव से न तो मंदिर का नजारा बदला और न ही यहां की जनता को कोई फायदा हुआ

श्री बंशीधर नगर : पूर्व मंत्री सह झाविमो के केन्द्रीय उपाध्यक्ष रामचंद्र केसरी ने कहा कि श्री बंशीधर महोत्सव के नाम पर सरकारी राशि की जमकर लूट हुई है। वह गुरूवार को चेचरिया में स्थित पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पंद्रह दिन के भीतर भाजपा का तीन कार्यक्रम बंशीधर महोत्सव एवं विहिप के द्वारा हिन्दू धर्मसभा हुआ। धर्मसभा के नाम पर जनता से भी वसूली की गई। महोत्सव से बंशीधर मंदिर का न तो नजारा बदला और न ही तो यहां की जनता को कोई फायदा हुआ। महोत्सव के नाम पर सिर्फ मंदिर के गुंबद का रंग रोगन कर सरकारी राशि लूट ली गई। इसका हिसाब सरकार एवं भाजपा को देना होगा। श्री केसरी ने कहा कि मंदिर जाकर उन्होंने देखा तो मंदिर का हाल जस का तस है। सिर्फ मंदिर के गुंबद का रंग रोगन किया गया है। जबकि महोत्सव में लाखो रूपये खर्च किये गये। कार्यक्रम में राज्यपाल एवं सीएम दोनों आये थे उसके बाद भी मंदिर का यही हाल रह गया। सीएम लंबी चौड़ी बातें कहकर चले गये। किसान, मजदूर, बेरोजगारी, पारा शिक्षकों एवं मनरेगा कर्मियों की समस्या जस की तस बनी रही। उन्होंने कहा कि महोत्सव में सांसद एवं विधायक दोनों मौजूद थे। इससे लगता है कि सांसद, विधायक एवं पूर्व विधायक के वर्चस्व की लड़ाई के लिये सीएम का प्रोग्राम हुआ था। उन्होंने कहा कि वे जनता की ओर से सरकार एवं भाजपा से इसका हिसाब मांग रहे हैं अगर इसका हिसाब नहीं दिया गया तो आने वाले चुनाव में भाजपा को वोट मांगने का भी अधिकार नहीं है। श्री केसरी ने कहा कि हिन्दूसेना के नाम पर जो भी कार्यकर्ता भाजपा में लगे हुये हैं उनसे अनुरोध है कि वे भाजपा के चंगुल से हट जायें क्योंकि उन्हें भाजपा के नेता सहयोग नहीं करते हैं जो कार्यक्रमों में देखा गया। उन्होंने हिन्दूसेना के लोगों से अपील करते हुये कहा कि राष्ट्रहित में सभी को साथ लेकर चलनें की जरूरत है। उन्होंने यूपी में गोकसी के नाम पर पुलिस पदाधिकारी की हुई हत्या की कड़ी निंदा की है। प्रेसवार्ता में सीताराम जायसवाल, कमला सिंह, सलीम अंसारी आदि मौजूद थे।

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें