डंडा में सखी संवाद कार्यक्रम आयोजित


डंडा : ग्रामीण विकास विभाग के निर्देश पर झारखंड स्टेट लाईबली हुड प्रमोशन सोसाइटी के तत्वाधान में प्रखंड के देवी मंडप के प्रांगण में सखी संवाद कार्यक्रम आयोजित की गई की। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रखंड प्रमुख वीरेंद्र चौधरी एवं अन्य लोगों ने दीप प्रज्वलित कर किया। मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए प्रमुख वीरेंद्र चौधरी ने कहा कि आज आधी आबादी अपने जिविका सम्मान और अधिकार के लिए संघर्ष कर रही हैं, सबसे ज्यादा महिलाएं घरेलू उत्पिडन,अंधविश्वास,गैर बराबरी का सामना कर रही है जिसमें जान तक देनी पड रही है स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ नहीं मिलने, शिक्षा के अभाव में डायन भूत का मार झेल रही है वहीं दहेज प्रथा के कारण महिलाएं उत्पीड़न झेल रही है। उन्होंने कहा कि समाज के अन्दर पुरुष मानसिकता हावी है और इस कारण से महिलाएं घर के बाहर निकलने को लेकर बहुत बार सोचती हैं और इनका स्वयं पर निर्भरता नहीं बन पाती लेकिन महिला प्रसार पदाधिकारी के सक्रियता से आज डंडा मे सैकड़ों स्वयं सहायता समूह खडी हुई हैं।अब उन्हें विश्वास के साथ ग्रुपों का संचालन करना चाहिए अब तक ग्रुपों का बैंक से ही ऋण लेकर बकरी पालन, मुर्गी पालन, मोमबत्ती उद्योग,अगरबत्ती फैक्ट्री संचालन इत्यादि का संचालन करना पड़ता था। श्री चौधरी ने कहा कि झारखंड सरकार ने राज्य भर में1.50लाख सखीं मंडल का गठन करने का लक्ष्य रखा है लेकिन सखीं मंडल के सदस्य आजीविका के लिए स्वयं पर निर्भर हो इसके लिए बजट में एक रुपये का प्रावधान नहीं किया है जो चिंता का विषय है सरकार को महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बजट मे प्रावधान करना चाहिए और बगैर ब्याज पर राशि समुहों को उपलब्ध करानी चाहिए।कार्यक्रम की अध्यक्षता वीपीएम मोनू कुमार ने किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में पुरुष महिलाएं ग्रामीण मौजूद थे।

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें