पूर्व मंत्री केसरी का विधायक भानू पर तीखा प्रहार, विधायक को बताया लूट का सौदागर


श्री बंशीधर नगर : पूर्व मंत्री सह झाविमो के केन्द्रीय उपाध्यक्ष रामचंद्र केसरी ने विधायक भानू प्रताप शाही पर तीखा प्रहार किया है। श्री केसरी ने भानू को लूट का सौदागर बताया है। वह सोमवार को यहां पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विधायक ने विकास के लिये गरीबों के नाम से प्राप्त योजनाओं में लूट एवं कमीशनखोरी कर जनप्रतिनिधि (विधायक) के नाम को भी बेशर्मी से कलंकित एवं शर्मसार कर दिया है। विकास योजनाओं के नाम पर लूट एवं घोटाला कर विधायक ने अक्षम्य अपराध को अंजाम दिया है। सीबीआई एवं ईडी द्वारा अनेकों बार छापामारी की कलंकित कहानियां आम है। सीबीआई और इडी ने देश के अनेक स्थानों हरियाणा के गुड़गांव, दिल्ली, रांची, उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिला में रॉबर्टसगंज आदि अनेक स्थानों पर विधायक की अवैध संपत्ति जब्त की है। उनके सगे सबंधी भी सीबीआई के चंगुल में हैं। सब पर मुकदमा चल रहा है। कभी जेल में जाते हैं तो कभी बेल पर छूटते हैं। अपने भी कई बार जेल जा चुके हैं। ऐसे भ्रष्ट व्यक्ति के द्वारा एक ईमानदार व्यक्ति पर झूठा आरोप लगाना कहां का सच है? उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता जानती है कि उनके समय में गांव-गांव और टोलों में पीसीसी पथ एवं चौपाल आदि अन्य कार्य किया गया है। वह कार्य आज तक जस का तस है। श्री केसरी ने कहा कि विधायक स्टीमेट घोटाला में संलिप्त हैं। वे काम शुरू होने से पहले कमीशन लेकर शिलान्यास करते हैं। ये क्षेत्र के सारे काम कमीशन के लिये कराते हैं। उन्होंने कहा कि सुखलदरी में बीस साल पहले निर्मित रेस्ट हाउस का आज 25 लाख रू पये की लागत से मरम्मत हो रहा है। कार्य करीब-करीब पूरा होने की स्थिति में था, जिसे रोककर शिलान्यास के नाम पर कमीशनखोरी की गई है। महदेईया जेल में भारी घोटाला हुआ है। उस मौके पर सीताराम जायसवाल, अश्विनी कुमार, मो नईम खलीफा, बुच्चु प्रसाद, बसंत जायसवाल समेत कई लोग मौजूद थे।

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें