शिक्षक कभी सेवानिवृत नहीं होते : बीइईओ



  

मध्य विद्यालय श्री बंशीधर नगर के हेडमास्टर व शिक्षक के सेवानिवृति पर विदाई सह सम्मान समारोह आयोजित

श्री बंशीधर नगर : प्रखंड अंतर्गत मध्य विद्यालय श्री बंशीधर नगर के प्रधानाध्यापक काशी महतो व सहायक शिक्षक रामकृष्ण राम के सेवानिवृति होने पर गुरुवार को विद्यालय परिवार की ओर से विदाई सह सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। विदाई सह सम्मान समारोह का शुभारंभ बीइईओ सह क्षेत्र शिक्षा पदाधिकारी महेन्द्र राम, सेवानिवृत्त शिक्षक रामाधार राउत, रामपरिखा सिंह एवं कमलेश्वर पांडेय ने संयुक्त रूप से सरस्वती माता के चित्र के समक्ष दीप जलाकर किया। तत्पश्चात विद्यालय की छात्राओ के द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। समारोह में विद्यालय परिवार के द्वारा पूर्व में सेवानिवृत्त हुये प्रखंड के लगभग 130 शिक्षकों को प्रशस्ति पत्र, डायरी, कलम व फूलमाला देकर सम्मानित किया गया। विदाई सह सम्मान समारोह में बोलते हुये बीइईओ महेन्द्र राम ने कहा कि शिक्षक कभी सेवानिवृत नहीं होते हैं। सेवानिवृति के बाद समाज में शिक्षकों की जिम्मेवारी बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि सेवानिवृति एक सामान्य प्रकिया है। सरकारी सेवा में आने के बाद सभी को एक दिन सेवानिवृत होना पड़ता है। बीइईओ ने सेवानिवृत्त होने वाले शिक्षकों के दीर्घायु होने की कामना की। उन्होंने विद्यालय परिवार के द्वारा पूर्व में सेवानिवृत्त हुये शिक्षकों को भी सम्मानित किये जाने के कार्यो की सराहना करते हुये कहा कि यह विद्यालय के लिये गौरव की बात है। समारोह में पेंशनर समाज के अध्यक्ष गदाधर पांडेय, शिवशंकर प्रसाद, विद्यासागर, कमलेश्वर पांडेय, रामानंद पांडेय, कृष्णा रागी, शिक्षक खुशदिल सिंह, अनिल विश्वकर्मा समेत कई अन्य लोगों ने संबोधित किया। समारोह के अंत में विद्यालय के सेवानिवृत हुये शिक्षकों को अंग वस्त्र प्रदान कर उन्हें सम्मानित किया गया। समारोह में द्वारिकानाथ पांडेय, दिनेश्वर चौबे, अमरेंद्र दास, रविशंकर प्रसाद, देवशंकर प्रसाद, घनश्याम शुक्ल, रमेश प्रसाद, नरेंद्र श्रीवास्तव, अखिलेश प्रसाद, वीरेंद्र पांडेय, संजय कुमार, भरत चौबे, आफताब आलम, माया कुमारी भगत, अनिता कुमारी, अनूप कुमार ठाकुर, शशि सिंह समेत विद्यालय के सभी छात्र-छात्रायें उपस्थित थे। अध्यक्षता सेवानिवृत्त शिक्षक रामपरिखा सिंह व संचालन शिक्षक कमलेश पांडेय ने किया।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें