मेराल में 10 अवैध क्रशर संचालकों पर प्राथमिकी दर्ज, 5 अन्य को भी किया नामित


खान विभाग के कार्रवाई से क्रशर संचालकों में मचा हड़कंप

बलराम शर्मा
मेराल : थाना क्षेत्र में गुरुवार को अवैध खनन की जांच के क्रम में दास स्टोन क्रशरों को अवैध रूप से संचालित करने के आरोप में खनन विभाग द्वारा मेराल थाना में दस ट्रेसर संचालकों पर प्राथमिकी दर्ज की गई तथा 5 अन्य को नामित किया गया। इन जगहों से जांच दल अवैध पत्थर व स्टोन चिप्स बरामद किया है। जिला खनन विभाग द्वारा आवश्यक कार्रवाई के लिए कारखाना निरीक्षक, वाणिज्यकर विभाग व संबंधित अन्य विभागों को पत्र लिखा गया है। जांच दल में जिला खनन पदाधिकारी योगेंद्र बड़ाईक, जिला खान निरीक्षक सुनिल कुमार सहित अन्य अधिकारी शामिल थे। जिला खनन पदाधिकारी द्वारा मेराल थाना में क्रशर संचालक मुन्ना राम, अमित सिंह, संजय पांडे, सत्येंद्र सिंह, बबलू सिंह उर्फ जैनेंद्र सिंह, शंभू साव, सुनील मेहता, पिंटू सिंह, आशुतोष पांडे तथा रामप्रवेश साव पर अवैध रूप से मेराल थाना क्षेत्र के कुंभी पहाड़ तथा अन्य स्रोतों से अवैध रूप से पत्थर का उत्थान कर क्रेशर संचालन कर सरकारी राजस्व का नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया है। साथ ही जिला खनन पदाधिकारी ने कहा है कि जांच के क्रम में ग्रामीणों की सूचना पर मेराल थाना क्षेत्र के ही आशीष मिश्रा, सुमंत तिवारी, दुर्गा साव, सीता राम चंद्रवंशी तथा सुनील सिंह के द्वारा भी अवैध क्रशर का संचालन करने की जानकारी दी है। इन पर भी झारखंड खनन अधिनियम के तहत करवाई करने का शिकायत दर्ज कराई गई है। जिला खनन पदाधिकारी द्वारा सभी क्रेशर को सील करते हुए क्रेशर पर पाई गई पत्थर तथा चिप्स का मापी कर थाना के कब्जे में दी गई है। खनन विभाग के इस कार्रवाई से क्रशर संचालकों में हड़कंप मच गई है।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें