संपूर्ण जीवन शिक्षा को समर्पित कर अलग पहचान बनायीः डीइओ



  

मेदिनीनगर : शहर के गिरिवर प्लस 2 उच्च विद्यालय के प्राचार्य चंद्रबली चौबे सेवानिवृत हो गये। इस अवसर पर स्कूल में समारोह आयोजित कर उन्हें भावभीनी विदाई दी गयी। स्कूल परिवार की ओर से उन्हें उपहार प्रदान किया गया। समारोह में शामिल लोगों ने उनके शेष जीवन सुखमय होने की शुभकामनाएं दी। समारोह की अध्यक्षता प्रभारी प्राचार्य एजाज अहमद खां व संचालन शाहिद अख्तर ने की। पलामू के डीईओ समारोह में बतौर मुख्य अतिथि तो चंद्रबली चौबे विशिष्ट अतिथि उपस्थित थे। इस अवसर पर वक्ताओं ने अपने संबोधन में प्राचार्य चंद्रबली चौबे को अनुशासन एवं नीतिप्रिय, कुशल वक्ता तथा संस्कृत का मर्मज्ञ व्यक्तित्व का धनी बताया। कहा गया कि उन्होंने अपना संपूर्ण जीवन शिक्षा को समर्पित कर अपनी अलग पहचान बनायी। वे 1989 में इस स्कूल में प्रतिनियोजित हुए थे। 1991 से सेवानिवृति तक पद पदस्थापित रहे। उनकी प्रतिभा को देखते हुए 1997 में एनसीसी का कमीशन पद प्राप्त हुआ। वर्ष 2000 में सेकेण्ड कमीशन ऑफिसर एवं 2010 में कमीशन ऑफिसर बनाये गये। वर्ष 2016 में उत्कृष्ट कार्यों के फलस्वरूप इन्हें दो वर्षों का सेवा विस्तार दिया गया। वक्ताओं ने उनके कुशल कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि उनकी अगुवाई में स्कूल में शिक्षा का एक अलग माहौल बना। स्कूल के विद्यार्थी अनुशासित रहे। स्कूल के सहयोगी एवं अन्य कर्मियों के साथ भी उनका अपनत्व पूर्ण व्यवहार रहा। उनका कार्यकाल हमेशा यादगार रहेगा। मौके पर राजेन्द्र सिंह, विश्वनाथ दूबे, अनूप कुमार, नीरज द्विवेदी, नरेश सिंह, दिलीप कुमार, राकेश यादव, राजेन्द्र सिंह, सरिता कुमारी, स्मृति कुमारी, रीतू शरण, आकांक्षा कुमारी, विद्या सिंह, नवीन कुमार, कृष्ण कुमार तिवारी, अशोक सिंह, शिवजी प्रसाद, विजय कुमार, रवीन्द्र नाथ पाठक, शिशिर कुमार झा, सत्यनारायण पांडेय, मुकेश नारायण दीक्षित, जनकराज प्रसाद, शिवनंदन लाल, सुरेन्द्र दूबे, प्रभु सिंह, अरविन्द सिंह, अंबिका प्रसाद गुप्ता एवं सुरेन्द्र कुमार दूबे आदि उपस्थित थे।


 

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें