माओवादी एरिया कमांडर बादल गिरफ्तार, बारूदी सुरंग विस्फोट कर छः पुलिसकर्मियों को शहीद करने समेत दर्जनों मामले दर्ज



  

गढ़वा : पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापामारी कर भाकपा माओवादी हार्डकोर नक्सली एरिया कमांडर रामविलास नगेसिया उर्फ बादल जी को गिरफ्तार कर लिया है। बादल की गिरफ्तारी भंडरिया थाना क्षेत्र के पररो परो गांव से मंडल डैम जाने वाले पहाड़ी रास्ते से की गई। एसपी शिवानी तिवारी ने शुक्रवार को कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर यह जानकारी दी।जानकारी देते एसपी ने बताया कि 31 जनवरी को माओवादियों के आह्वान पर भारत बंद के दौरान माओवादी सैक सदस्य राधेश्याम यादव उर्फ विमल एवं सक्रिय सदस्य रामविलास नागेसिया अपने सहयोगी नक्सलियों के साथ मंडल डैम एवं परो के आसपास सक्रिय देखा गया था। ये लोग भारत बंद को सफल बनाने के लिए किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। सूचना मिलते ही जिला पुलिस बल एवं सीआरपीएफ 172 बटालियन की संयुक्त टीम गठित कर छापामारी की गई। छापामारी में उक्त स्थल से बादल को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि माओवादी शेखर वृजिया के पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के बाद फिलवक्त एरिया कमांडर के रूप में सक्रिय था । बादल पर 25 जून 2018 को भंडरिया थाना क्षेत्र के खपरी महुआ में अभियान में शामिल जेजे सीआरपीएफ पार्टी पर नाजायज मजमा बनाकर अंधाधुंध फायरिंग कर जानलेवा हमला करने एवं बारूदी सुरंग विस्फोट करा कर छह पुलिसकर्मियों को शहीद करने की जघन्य हत्याकांड सहित गढ़वा एवं छत्तीसगढ़ में एक दर्जन से अधिक अपराधिक मामले दर्ज हैं। पूछताछ के क्रम में पुलिस के समक्ष बादल ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए कई अन्य कांडों में संलिप्त होने का खुलासा किया है। साथ ही छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में सड़क निर्माण में लगे जेसीबी , पोकलेन आदि मशीनों को जलाने तथा उसके दो कर्मियों का अपहरण करने की घटना में संलिप्तता स्वीकार किया है। इस मौके पर एसपी सदन कुमार, एसडीपीओ रंका विजय कुमार, भंडरिया थाना प्रभारी एसपी गुप्ता आदि लोग उपस्थित थे।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें