आॅपरेशन में लापरवाही का सच सामने आना शुरू, लापरवाही का खामियाजा भुगत रही महिलाएं काट रहीं अस्पताल का चक्कर



  

नीलू चौबे
श्री बंशीधर नगर : अनुमंडलीय अस्पताल में बंध्याकरण आॅपरेशन में लापरवाही का सच अब सामने आना शुरू हो गया है। ऑपरेशन में लापरवाही का खामियाजा भुगत रही महिलाएं अब अस्पताल का चक्कर काट रही हैं। प्रखंड के कुम्बा खुर्द गांव निवासी कुलदीप उरांव की पत्नी मैनवा देवी ऑपरेशन में लापरवाही की शिकार लोगों में से एक है। मैनवा देवी का आॅपरेशन के एक माह बीत जाने के बाद भी पेट में लगाया गया चीरा सूखने का नाम नहीं ले रहा है। मैनवा देवी के पेट में लगाये गये चीरा से अभी भी मवाद आ रहा है।

बिना बेहोश किये ही पेट में लगा दिया था चीरा

आज मैनवा देवी अपना इलाज कराने के लिये अनुमंडलीय अस्पताल पहुचीं थी। इस संबंध में मैनवा देवी ने बतलाया कि गत् 30 दिसंबर को अनुमंडलीय अस्पताल में उनका आॅपरेशन हुआ था। मुझे बिना बेहोश किये ही पेट में चीरा लगा दिया गया था जिससे वे दर्द से छटपटाने लगी थी। उसके बावजूद भी लोगों ने ध्यान दिया। परिजनों के काफी कहने के बाद अस्पताल कर्मियों के द्वारा दर्द का इंजेक्शन लगाया गया था। उसके बाद थोड़ी देर के लिये उन्हें राहत मिली थी। मेरा घाव अभी तक नहीं भरा है और लगातार घाव से मवाद आ रहा है। मैनवां देवी ने कहा कि अस्पताल में डॉक्टर मैडम को दिखाई तो बोली सब ठीक है घर जाओ कोई दिक्कत नहीं है।

सरकारी अस्पताल पर भरोसा उठा

इस घटना से मैनवा देवी के पति कुलदीप उरांव का सरकारी अस्पताल पर भरोसा ही उठ गया है। कुलदीप उरांव ने कहा कि सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों का कोई भरोसा नहीं वे अपनी पत्नी को किसी अन्य डॉक्टर को दिखायेंगे। यहां बता दूं कि विगत 30 जनवरी को अनुमंडलीय अस्पताल में बंध्याकरण आॅपरेशन में प्रबंधन के द्वारा भारी लापरवाही बरते जाने का मामला सामने आया है। यहां अकुशल नर्स एवं कंपाउंडर के द्वारा ही महिलाओं का बंध्याकरण किये जाने और उसके बाद उनलोगों को फर्श पर सुलाने के साक्ष्य मिले हैं।जांच के बाद जिले के सिविल सर्जन डॉ एनके रजक ने भी इसकी पुष्टि की है।

समुचित इलाज होगा : कार्यकारी डीएस

अनुमंडलीय अस्पताल के कार्यकारी उपाधीक्षक डॉ राहुल कुमार ने कहा कि महिला को चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। उसका समुचित इलाज किया जायेगा। जरूरत पड़ी तो उसे सदर अस्पताल गढ़वा भेजकर बेहतर इलाज कराया जायेगा।


 

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें