व्यक्ति नहीं विचार थे गिरिवर पांडेय : अलखनाथ पांडेय


75 वीं जयंती पर याद किये गये स्व गिरिवर पांडेय

श्री बंशीधर नगर : प्रख्यात समाजवादी नेता सह बिहार सरकार के पूर्व मंत्री स्व गिरिवर पांडेय की 75 वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धा से याद किया गया। जयंती समारोह में उपस्थित विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं और समाज के सभी वर्गों के लोगों नें सोमवार को यहां गिरिवर पांडेय चौक पर स्थित स्व पांडेय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कृतज्ञता व्यक्त की। उस मौके पर भाजपा के वरिष्ठ नेता अलखनाथ पांडेय ने कहा कि स्व गिरिवर पांडेय व्यक्ति नहीं विचार थे। उन्होंने कहा कि स्व पांडेय नें सिद्धांतों के साथ कभी समझौता नही किया। जीवन भर गरीबों को हक एवं उनका अधिकार दिलाने के लिये संघर्ष किया। मंत्री बनने के बाद भी उनके व्यवहार में कोई परिवर्तन नही हुआ। उन्होंने उपस्थ्ति लोगों से स्व पांडेय के पदचिन्हों पर चलने की अपील की। झामुमो नेता कन्हैया चौबे ने कहा कि स्व गिरिवर पांडेय ईमानदार, संघर्षशील और क्रांतिकारी नेता थे। जमीनी स्तर के नेता होने के कारण वे सदैव गरीबों, दलितों, पिछडों, शोषितों और दबे कुचले लोगों के सुख दुख में शामिल रहते थे। स्व पांडेय गरीब परिवार में जन्में थे किन्तु उनका दिल गरीब नहीं था। नसंमो के कार्यकारी अध्यक्ष भगत दयानंद यादव ने कहा कि स्व गिरिवर पांडेय गरीबों के नेता थे। उन्होंने कहा कि स्व पांडेय ने हमेश गरीबों की लड़ाई लड़े और उन्हें उनका हक एवं अधिकार दिलाने का काम किया। समारोह में रघुराज पांडेय, शिवकुमार पांडेय, रेखा चौबे, तेजप्रताप पांडेय, रामजन्म पासवान, अंबिका तिवारी, अनिल चौबे, खुशदिल सिंह, रामचंद्र यादव, दयानंद पांडेय, मंटू पांडेय, सत्येन्द्र शुक्ला, राजेन्द्र अग्रहरि आदि कई लोगों नें भी अपने-अपने विचार व्यक्त किये। समारोह में विजय चौबे, विभूतिभूषण चौबे, हजारी प्रसाद, सत्येन्द्रनाथ पांडेय, सुरेन्द्र यादव समेत बड़ी संख्या में गणमान्य लोग मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता दयानंद पांडेय व संचालन स्व पांडेय के द्वितीय पुत्र अभय कुमार पांडेय नें किया।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें