माइंस परिसर में नक्सली उत्पात, पांच वाहन फूंके गए


छत्तरपुर,/पलामू : नक्सल हिंसा से शांत पड़े पलामू जिले में बीती रात ‘आरसीसी’ नामक कथित नक्सली संगठन ने अपनी दस्तक दी। जिले के नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र के मननदोहर-धकनाथन में रविवार की रात आरसीसी नक्सली संगठन ने एक माइंस में जमकर उत्पात मचाया और पांच वाहनों में आग लगा दी। इस घटना में करीब चार करोड़ का नुकसान सामने आया है। नक्सलियों की संख्या आठ से 10 के आस पास थी और सभी वर्दी में हथियारों से लैस थे. घटना के बाद माइंस परिसर और गांव में दहशत का माहौल है. सोमवार को जिले के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत माहथा द्वारा घटनास्थल का जायजा लिया गया और कार्रवाई की स्थिति से अवगत हुए।
बिहार बार्डर पर हुई घटना
नौडीहा बाजार का मननदोहर बिहार सीमा से सटा हुआ है। बिहार की सीमा यहां से महज दो किलोमीटर की दूरी पर है। रात करीब 9.30 बजे से 10 बजे के बीच नक्सलियों का दस्ता हुसैनाबाद जिला पार्षद सह भाजपा नेता विनोद सिंह और विश्वनाथ प्रसाद उर्फ शंभू सेठ द्वारा पार्टनशिप पर चल रहे स्टोन माइंस पर पहुंचा और उत्पाद मचाना शुरू कर दिया। माइंस के सुपरवाइजर संतोष के साथ मारपीट की और वहां खड़े पांच वाहनों में आग लगा दी।
कार्रवाई तेज, जल्द होगी गिरफ्तारीः एसपी
जिले के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत महथा ने बताया कि घटना रात करीब 09.30 बजे हुई है। मननदोहर-धकनाथन में एक निजी स्टोन माइंस में आरसीसी नामक आपराधिक संगठन के करीब 08-10 की संख्या में अपराधियों द्वारा लेवी के कारण माइंस के 5 गाडि़यों में आगजनी की घटना की गयी। प्रारंभिक जांच से पता चला है कि ये अपराधी बिहार के गया जिला अंतर्गत डुमरिया से आये थे। यह क्षेत्र बिहार राज्य के डुमरिया जिले से करीब 02 किलोमीटर की दूरी पर है। अपराधियों को बहुत जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। घटना की सूचना मिलने के बाद तत्काल रात में ही प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी विनीत कुमार, डीएसपी शम्भू कुमार सिंह मौके पर पहुंचे। जानकारी लेने के बाद नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नौडीहा बाजार क्षेत्र में ही आरसीसी ने एक माह पहले रोड निर्माण कार्य में लगे वाहनों को फूंक दिया था। उस घटना में डुमरिया के कुछ लोगों का नाम सामने आया था।
अपने साथ लेकर आए थे पेट्रोल
माइंस कर्मियों ने बताया कि 10 लोग वर्दी में आए और सभी को एक कतार में खड़ा कर दिया। सभी का मोबाइल छीन लिया और फिर अपने साथ लाए पेट्रोल को पोकलेन और पिकअप वैन पर छिड़क दिया। लोग कुछ समझ पाते कि इससे पहले ही नक्सलियों ने मशीन और गाड़ी को आग के हवाले कर दिया।
इनके पोकलेन जले
आगजनी में बिहार के औरंगाबाद निवासी संजय सिंह के एक पोकलेन और एक पिकअप, बरही के संजय यादव के दो पोकलेन, छत्तरपुर निवासी शीतल सिंह का एक पोकलेन जलाया गया है। एक अनुमान के अनुसार चार करोड़ से अधिक का नुकसान इस घटना में बताया गया है। इस संबंध में अज्ञात अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें