सगमा यज्ञ में 15 वर्षीय कथा वाचिका तेजस्विनी के प्रवचन में उमड़ रही श्रद्धालुओं की भीड़


सगमा: प्रखंड मुख्यालय स्थित भैया रूद्र प्रताप देव उच्च विद्यालय सगमा के प्रांगण में चल रहे श्री पञ्च देवता विष्णु नवाह परायण महायज्ञ मे 15 वर्षीय तेजस्विनी तिवारी का प्रवचन सुनने को लेकर महिला पुरुष श्रद्धालुओं की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ता गया तेजस्विनी तिवारी ने अपने मधुर वाणी एवं ओजपूर्ण प्रवचन से श्रद्धालुओं को भक्तिरस में गोता लगवाया। यज्ञ के दूसरे दिन से प्रवचन करते हुए माया ने भगवान श्री कृष्ण के जन्म से लेकर उनके बाल लिला तथा कंस वध तक के प्रसंग को बेहतर तरीके से प्रस्तुत किया। इस दौरान तेजस्विनी तिवारी के भजन प्रस्तुति ने यज्ञ में आए श्रद्धालुओं को झूमने के लिए मजबूर कर दिया। वहीं प्रवचन के आठवें दिन सीता माता के जन्म से लेकर राम विवाह तक के प्रसंग को बड़े ही रोचक और संगीतमय ढंग से प्रस्तुत करते हुए कहा कि कोई भी कार्य माता पिता गुरु और प्रभु को समर्पण कर और उनकी वाणी को शुभ समझ कर बिना विचार किये करना चाहिए। वक्त प्रसंग के माध्यम से तेजस्विनी तिवारी ने बेटा और बेटी में भेदभाव की व्याख्या करते हुए ऐसा ना करने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि ईस संदेश को जन-जन तक पहुंचाने की जरूरत है ताकि आने वाले समय में लोग बेटा व बेटी में फर्क न समझे।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें