कांडी में एक पखवारे अंदर दूसरी बार मिला नवजात का शव



  

कांडी: प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत सरकोनी पंचायत के ग्राम सेमौरा स्थित पोखरा में एक भ्रूण मिला। मंगलवार की दोपहर कुछ ग्रामीणों के द्वारा देखने के बाद धीरे धीरे बात आग की तरह चारों तरफ फैलने लगी। जिसके बाद भ्रूण को देखने के लिए काफी संख्या में लोग पोखरा के पास पहुंचे। भ्रूण मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी है। भ्रुण को कुत्तों द्वारा नोंच दिया गया था। जिसे ग्रामीणों द्वारा दफना दिया गया। कांडी प्रखंड में लगातार भ्रूण मिलने का वजह अबतक मालूम नहीं हो सका है। कुछ लोगों के के अनुसार क्षेत्र में झोला छाप डॉक्टरों की संख्या बढ़ गयी है। बिना लाइसेंस के कई क्लीनीक धड़ल्ले से चल रहे है। झोलाछाप डाँक्टर द्वारा गर्भपात करना रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। लगातार भ्रुण मिलना उसी का परिणाम है। विदित हो कि कांडी बस्ती में भी 1 फरवरी को इसी तरह का एक मामला सामने आया था, दस दिन के भीतर इसी तरह का एक और मामला सामने आने से क्षेत्र के लोगों में आक्रोश व्याप्त है। इस संबंध में बीस सूत्री अध्यक्ष रामलाला दूबे ने बताया कि इस तरह लगातार नवजात का भ्रुण मिलना कांडी प्रखंड के लिए शर्म की बात है, इस तरह की मामलों का जांच होना चाहिए, उन्होंने कहा कि कुछ झोलाछाप डाँक्टर ही पैसे की लालच में इस तरह का गैरकानूनी कार्य को अंजाम देते हैं।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें