बड़ी खबर : भारतीय वायुसेना ने पीओके में जैश के ठिकानों पर की भारी बमबारी, कई ठिकाने तबाह




पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना पर नियंत्रण रेखा पर करने का लगाया आरोप

★खास बातें
●पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान पर भारत की बड़ी कार्रवाई
●न्यूज एजेंसी एएनआई ने आईएएफ सूत्रों के हवाले से बताया है कि लड़ाकू विमान मिराज ने पीओके में हमला किया है
●12 मिराज विमानों ने आतंकी ठिकानों पर 1000 किलोग्राम के बम गिराए हैं
●पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता ने आरोप लगाया था कि भारतीय वायुसेना ने सीमा का उल्लंघन किया है

नई दिल्ली : पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। भारतीय वायुसेना ने बालाकोट, चकोटी और मुजफ्फराबाद में जैश के ठिकानों पर कार्रवाई करते हुए हमला किया है। हालांकि इस हमले में कितने आतंकी मारे गए हैं इसकी पुख्ता जानकारी नहीं मिली है। माना जा रहा है कि 200 से 300 आतंकी मारे गए हैं। उधर इससे पहले पाकिस्तान ने आज आरोप लगाया है कि भारतीय वायुसेना ने सीमा का उल्लंघन किया है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने वायुसेना सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि भारतीय लड़ाकू विमानों ने तड़के करीब साढ़े तीन बजे पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में 1000 किलोग्राम के बम गिराए गए हैं।

न्यूज एजेंसी एएनआई ने खबर दी है कि भारतीय वायुसेना के एक दर्जन मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने सीमा पार आतंकी कैंपों पर हमला किया और भारी बमबारी कर उसे पूरी तरह ध्वस्त कर दिया है।

एक दर्जन मिराज लड़ाकू विमानों ने गिराए 1000 किलोग्राम के बम
भारतीय वायुसेना के एक दर्जन मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने सीमा पार आतंकी कैंपों पर हमला किया और उसे पूरी तरह ध्वस्त कर दिया है। बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने अपने सुरक्षाबलों को कार्रवाई के लिए खुली छूट दे दी थी। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि पुलवामा आतंकी हमला के साजिशकर्ताओं को छोड़ा नहीं जाएगा और सेना अपने हिसाब से कार्रवाई करेगी।

पीओके में भारतीय वायुसेना का हमला : पाक
भारत पर सीमा के उल्लंघन का आरोप लगाने वाले ट्वीट में पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर एक ट्वीट में लिखा है कि भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद सेक्टर से घुसपैठ की कोशिश की थी। उन्होंने आगे लिखा है कि पाकिस्तानी सेना द्वारा ठीक समय पर प्रभावी जवाब दिया गया। उन्होंने जानकारी दी है कि घटना में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि, भारतीय वायुसेना की ओर से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है। गौरतलब है कि पुलवामा हमले के बाद दोनों देशों के रिश्तों में तल्खी और बढ़ी है।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें