भवनाथपुर में धूमधाम से मनाई गई महाशिवरात्रि पर्व




भवनाथपुर : भवनाथपुर एवं आसपास के सभी शिवालयों पर रुद्राभिषेक,जलाभिषेक एवं विधिवत पूजा अर्चना के साथ महाशिवरात्रि का पर्व धूमधाम से मनाई गई। भवनाथपुर शिवपहाडी गुफा,कड़ियाराज पहाड़ी,दुर्गा मंदिर टाउनशिप,सूर्यमन्दिर भवनाथपुर,थाना परिसर स्थित शिव मंदिर सहित सभी शिवालयों को आकर्षक ढंग सजाया गया वंही सोमवार की अहले सुबह से ही रात की बारिश के वावजूद शिवभक्तों की भीड़ शिवालयों में इकठ्ठा होने लगी खासतौर पर महिलाओं ने महाशिवरात्रि के पर्व पर उपवास रख भजन कीर्तन से माहौल को शिवरस में डुबो दिया। दुर्गा मंदिर टाऊनशिप में विशेष रूप से अखण्ड कीर्तन का आयोजन किया गया। शिवपहाडी में चलने वाले दो दिवसीय मेले मे रात की बारिश के बाद सुबह मौसम साफ रहने के कारण दस हजार से अधिक शिवभक्तों ने गुफा स्थित महाकाल के दर्शन किये।ब्रजेश कुमार,रामविजय गुप्ता,पंकज कुमार,रामचन्द्र मेहता,अरुण कुमार,प्रवेश कुमार,रवि कुमार सहित सभी पूजा कमिटी सदस्यों ने शिवपहाडी गुफा परिसर की सफाई,भीड़ नियंत्रण एवं गुफा के भीतर रास्ते मे उचित लाइट की व्यवस्था हेतु जी जान से लगे रहे।

पर्यटन विभाग की नजरों से ओझल है शिवपहाडी गुफा

सौ वर्षों से अधिक समय से पूजा पाठ किये जा रहे भवनाथपुर पंडरिया पंचायत के सेल प्रक्षेत्र अवस्थित शिवपहाडी गुफा पर्यटन विभाग की नजरों से ओझल है यदि विभाग की बारीकी नजर भी इस अदभुत गुफा पर पड़े तो भवनाथपुर का यह विचित्र ऐतिहासिक गुफा मानचित्र पर भी देखा जा सकता है।विशाल चट्टानों को एक दूसरे पर टिके होने के कारण अंदर में गुफा का रास्ता करीब 150 फिट तक जाता है आगे का रास्ता अति कठिन होने के कारण लोग नही जा पाते।गुफा में एक काशी करवट नामक स्थान भी है जहां पर सूर्य की सीधी रौशनी पहुचती है।वंही क्षेत्र के लोग गुफा के अंदर स्थित शिव लिंग के पास अनेक अवसरों पर अखण्ड कीर्तन का कार्यक्रम भी आयोजित करते है।प्रकृति द्वारा प्रदत्त इस गुफा में पर्यटन के लिहाज से काफी कुछ है बस इसे पर्यटन विभाग द्वारा संवारने की आवश्यकता है।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें