स्वास्थ्यकर्मी के पत्नी की संदिग्धावस्था में मौत




गढ़वा: सदर थाना के समीप स्थित दीपुवां मोहल्ले में किराये के रूम में रह रही 22 वर्षीया अनुष्ठा कुमारी की संदिग्धावस्था में मौत हो गई। मृतका मलेरिया विभाग धुरकी सीएचसी में कार्यरत मिथिलेश कुमार की पत्नी बताई जा रही है। बुधवार को सदर अस्पताल में लाए जाने के बाद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अनुष्ठा कुमारी आरोग्यम नर्सिंग कॉलेज में प्रशिक्षु एएनएम थी। मंगलवार को शहर के दीपवां मोहल्ला स्थित अपने आवास में उसने फांसी लगा ली थी। उसे गंभीर स्थिति में सदर अस्पताल में भर्ती किया गया था। सदर अस्पताल के चिकित्सक डा. जियाउल हक ने बताया कि इसकी मौत पहले ही हो चुकी थी। जिसे मैंने देख मृत सर्टिफाइड किया है। घटना की सूचना पर गढ़वा पहुंचे मृतका के ससुर बिहार के बेगूसराय जिले के भगवानपुर निवासी रामचंद्र राय ने बताया कि उन्हें सूचना मिली तो वे रांची से आए हैं। रामचंद्र राय ने बताया कि पांच वर्ष पूर्व उसकी शादी मिथिलेश से हुई थी। उसे साढ़े तीन वर्ष का एक बेटा है। उन्होंने इस घटना के संबंध में और कुछ बताने से इंकार कर दिया। चर्चा के अनुसार उसकी हत्या कर पूरे दिन मामले पर पर्दा डालने का खेल चल रहा था। सुनियोजित तरीके से उसे सदर अस्पताल में तब भर्ती कराने के लिए लाया गया, जब पुलिस विभाग में कार्यरत मिथिलेश के पिता गढ़वा पहुंच गए। बातचीत के दौरान रामचंद्र राय स्वयं को पुलिस विभाग में कार्यरत बताया किंतु मृतका के मायका के संबंध में जानकारी नहीं दी। हालांकि यह घटना मौत है या हत्या या आत्महत्या पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है। सूत्रों के अनुसार मामला पूरी तरह संदिग्ध है।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें