निजी अस्पताल का कारनामा, मरीज की चली गई आंखों की रौशनी




गढ़वा: कचहरी रोड स्थित सीटी हॉस्पीटल में एक व्यक्ति को आंखों का आॅपरेशन कराना बहुत महंगा पड़ गया। व्यक्ति आंखों की रौशनी के लिए आॅपरेशन कराया लेकिन उसकी पूरी रौशनी ही चली गयी। आॅपरेशन आंख रोग विशेषज्ञ डा. पूणेंदू विमल के द्वारा किया गया था। मामला 26 दिसंबर की है। जब विशुनपुरा निवासी मिथलेश प्रसाद गुप्ता अपनी आंख की आॅपरेशन करवाया। आॅपरेशन के बाद जब उसकी रौशनी वापस नहीं आने लगी, तो चिकित्सक से संपर्क किया। चिकित्सक कई बार उसे बुलाकर दवा दिया। लेकिन उसकी रौशनी वापस नहीं आयी। 6 फरवरी को चिकित्सक ने उसे बाहर ले जाने क ी सलाह दी। परिजनों ने उसे फौरन पटना ले गये। जहां चिकित्सकों ने अथक प्रयास कर उसकी रौशनी 10 प्रतिशत वापस करने में कामयाब रहे। ग़ुरूवार को मिथलेश प्रसाद का पुत्र अजीत प्रसाद डा. पूर्णेंदू विमल से मिलकर आॅपरेशन में लगे पैसा वापस देने की मांग किया। चिकित्सक ने शुक्रवार को आने को कहा। अजीत शुक्रवार को चिकित्सक के पास जैसे ही आया, चिकित्सक ने तुरंत पुलिस को बुला दी। पुलिस अजीत एवं चिकित्सक पूर्णेंदू को थाना ले आयी। जहां चिकित्सक ने उसके खिलाफ हंगामा करने एवं जान माल की सुरक्षा के लिए आवेदन दिया है। दूसरे तरफ से भी चिकित्सक के खिलाफ आवेदन दिया गया है। इस संबंध में थाना प्रभारी अनिल कुमार सिंह ने बताया कि दोनों तरफ से आवेदन मिला है। मामले की जांच की जा रही है। जो भी दोषी होंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें