ऑनर किलिंग मामले में मां, बाप, भाई, व वार्ड सदस्य समेत छह के खिलाफ एफआईआर, पिता गिरफ्तार अन्य फरार




छतरपुर : थाना क्षेत्र में ऑनर किलिंग की दिल दहला देने वाली घटना प्रकाश में आयी है। घटना रूद गांव की है। जहां एक परिवार के लोगों ने प्रेम प्रसंग के खिलाफ कठोर कदम वहसियाना कदम उठाते हुए अपने ही घर की मोनिका(काल्पनिक नाम) नामक 19 वर्षीय बालिग बेटी की हत्या कर दी। इतना ही नहीं हत्याकर गुपचुप तरीके से उसके शव को जला भी दिया। हालांकि इस घटना की किसी ने चुपके से पुलिस को सूचना दे दी, जिसके बाद मृतका के घर पर पहुंची छतरपुर थाना की पुलिस ने पहले पिता सत्यनारायण यादव को गिरफ्तार किया और बाद में उसकी निशानदेही पर मोनिका के शव की जली हड्डियों को बांकी नदी के पास से जब्त कर लिया। यह मामला छतरपुर थाना में कांड संख्या 35/19 धारा 302, 201, 120(बी) भादवि के तहत दर्ज किया गया है। दर्ज एफआईआर में पिता सत्यनारायण यादव के अलावे मां रामपति देवी, भाई रंजीत यादव, भौजाई शारदा देवी एवं पड़ोसी वार्ड सदस्य संजय यादव तथा मिथलेश सिंह को नामजद किया गया है। यह घटना 14 मार्च की रात की है। छतरपुर थाने में पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रशिक्षु आईपीएस विनीत कुमार ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने हत्या के कारणों के पीछे सीधे-सीधे प्रेम प्रसंग नहीं बताते हुए कहा है कि मृतका के पास उपलब्ध मोबाईल पर हुई शक में परिजनों ने हत्या की घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने गिरफ्तार सत्यनारायण यादव के बयान के हवाले से बताया है कि घरवालों ने मोनिका को मोबाईल नहीं दिया था। इसके बाद भी उसके पास मोबाईल का होना किसी अन्य लड़के के साथ उसके परिचय का संकेत दे रहा था। इसी बात को लेकर इस कदर नाराजगी बढ़ी कि परिजनों ने मिलकर बेटी की हत्या कर दी। इधर, रूद गांव के अन्य सूत्रों पर विश्वास करें तो मोनिका बालिग थी और वह अपने जात से अलग दूसरे जात के एक लड़के को दिल दे बैठी थी, जिसके साथ वह विवाह बंधन में बंधने पर अड़ी हुई थी। इसी बात को लेकर घरवालों ने हैवानियत दिखायी और उसकी हत्या कर दी। विडम्बना तो यह है कि बेटी की हत्या में उसकी मां ने भी सहयोग किया। बहरहाल घटना को लेकर चर्चाओं का बाजार गरम है। पुलिस मामले की छानबीन के साथ-साथ इस हत्या में शामिल अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी में जुट गयी है। मौके पर छतरपुर थाना प्रभारी वासुदेव मुंडा उपस्थित थे।

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें