कलश यात्रा के साथ रुद्रनारायण महायज्ञ सह प्राण प्रतिष्ठा समारोह का शुभारंभ



  

गढ़वा: गढ़वा सदर प्रखंड अंतर्गत कोरवाडीह गांव में भव्य कलश यात्रा के साथ श्री रुद्रनारायण महायज्ञ सह प्राण प्रतिष्ठा समारोह का शुभारंभ हो गया। मुख्य अतिथि डिप्टी कमांडेंट योगेंद्र कुमार मिश्रा एवं विशिष्ट अतिथि चिकित्सा पदाधिकारी डॉ कुलदेव चौधरी ने संयुक्त रूप से फीता काटकर कलश यात्रा का शुभारंभ किया। श्री मिश्रा ने कहा कि प्राचीन काल से ही महायज्ञ कराने की परंपरा रही है चाहे विजय प्राप्ति के लिए हो, पुत्र प्राप्ति के लिए हो, धन प्राप्ति के लिए हो या फिर विश्व शांति के लिए। मानव जाति में समरसता, सुख- शांति, भौतिक तरक्की के लिए यह महायज्ञ कराया जा रहा है। वही विशिष्ट अतिथि डॉ कुलदेव चौधरी ने कहा कि इस यज्ञ का सबसे बड़ा उद्देश्य विश्व शांति है। आज पूरे विश्व में अर्थव्यवस्था चरमरायी हुई है। प्रकृति अपना रौद्र रूप दिखा रही है, जानलेवा बीमारियाँ चारों ओर फैल रही है। प्रदूषण भी लगतार फैल रहा है। मनुष्य दूसरे मनुष्य का शत्रु बनने को आतुर है। उन्होंने कहा कि अशांति, व्याकुलता, मुसीबतें, सामाजिक बुराइयाँ से बचने और विषम परिस्थितियों का सामना करने के लिए यज्ञ करना बहुत जरूरी है। यज्ञ के माध्यम से वातावरण भी शुद्ध होता है। आचार्य परशुराम शास्त्री के सानिध्य में चल रही महायज्ञ के अवसर पर उन्होंने कहा कि ईश्वर भक्ति में भगवान का वास होता है। जब हम धर्मों के मार्ग अपना लेते हैं तो जीवन में कई कष्टों को सहन करना पड़ता है, परन्तु इन कष्टों को फूल समझकर आगे बढ़ने वाला व्यक्ति ही परमात्मा को समझ सकता है। शिव मंदिर का निर्माण रामवृक्ष चौधरी ने करवाया था जिसका प्राण प्रतिष्ठा स्थापित किया गया। कार्यक्रम का संचालन सुमेर चौधरी तथा धन्यवाद ज्ञापन रामवृक्ष चौधरी ने किया। मौके पर अध्यक्ष दिनेश कुमार चौधरी, मंदिर निमार्ता रामवृक्ष चौधरी, अमित सिंह, रामाधार यादव, लालजी राम, श्रवण विश्वकर्मा, लखन चौधरी, विनोद चौधरी, राजमुनि चौधरी, राजेन्द्र चौधरी, सुदामा चौधरी, धनन्जय चौधरी, कमलेश चौधरी, शिवनाथ चौधरी, चंचल कुमार रवि, शांति देवी, सुनीता देवी, भाग्यमनी देवी सहित काफी संख्या में श्रद्धालु भक्तजन उपस्थित थे।


 

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें