भारत कृषि प्रधान राष्ट्र है : रासबिहारी



  

भंडरिया: प्रखंड मुख्यालय स्थित पतंजलि योगपीठ कार्यालय में पतंजलि योगपीठ सहित पाँचों संगठनों के द्वारा संयुक्त रूप से बैशाखी पर्व पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में दर्जनों गाँवों के किसान कार्यकर्ताओं सहित महिलाओं ने भी भाग लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पतंजलि योगपीठ भंडरिया की संरक्षिका रीता शर्मा के द्वारा किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पतंजलि योगपीठ सह राज्य प्रभारी श्री रासबिहारी तिवारी ने उपस्थित कार्यकर्ताओं के संबोधन में बैशाखी पर्व से संबंधित इतिहास एवं इससे जुड़े महत्त्वपूर्ण घटनाओं पर विस्तार से बताया। उन्होने योगपीठ के द्वारा किसानों के हित में किए जा रहे कार्यों एवं योजनाओं पर भी प्रकाश डाला। श्री तिवारी ने कहा कि भारत कृषि प्रधान राष्ट्र है, जिसमें देश की समृद्धि तभी संभव है, जब यहाँ के करोड़ों किसानों के घर में समृद्धि आए। और यह तबतक संभव नही है जबतक हम गौ आधारित व विषमुक्त कृषि को नही अपनाएँगे। पतंजलि योगपीठ के द्वारा पूरे देश में प्रशिक्षण देकर देशभर के किसानों को विषमुक्त कृषि के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। हमसभी को भी विषमुक्त कृषि अपनाकर जैविक खाद आदि तैयार करने का प्रशिक्षण लेकर इसे उपयोग में लाना चाहिए। उपस्थित कार्यकर्ताओं एवं किसानों को जैविक खाद एवं उर्वरक के प्रयोग में अंतर को समझाते हुए हमारे दैनिक जीवन में गौमाता की महत्ता पर भी प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से कांडी प्रखंड प्रभारी भरत जी, भारत स्वाभिमान प्रखंड प्रभारी नितेश कुमार, पतंजलि योगपीठ प्रखंड प्रभारी कृष्ण मुरारी सिंह,महिला प्रभारी नीतू देवी,युवा प्रभारी बिपिन मिश्रा, श्रवण ठाकुर,आरटेकर सिंह, मंजू कुजूर, सुनील सिंह,गोविंद सिंह,दिलीप मुंडा आदि समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे।


 

 

(पलामू प्रमंडल की ख़बरों के लिए बंशीधर न्यूज़ मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

शेयर करें